स्वदेश वापसी /दुबई से दिल्ली-'वन्दे भारत मिशन' Repatriation Flight from UAE to India

'वन्दे भारत मिशन' के तहत  स्वदेश  वापसी   Covid 19 के कारण असामान्य परिस्थितियाँ/दुबई से दिल्ली-Evacuation Flight Air India मई ,...

October 15, 2009

'दीवाली आई है'

एक बरस बिता कर दीवाली आई है,इसी शुभ अवसर पर आप सभी को दीवाली की ढेर सारी शुभकामनायें.
ईश्वर करे हर ओर रोशनी केवल इस एक दिन नहीं ,हर दिन रोशनी हर घर आँगन में ऐसे ही जगमगाती रहे.



दीवाली आई है
-------------------
अमा का तम सघन,बेध रही दीप शिखा,
अनगिन किरण कण ,बिखरे हैं चहुँ दिशा,
महकी बयार है पकवानों की सुगंध से,
फुलझडी,अनारों की जगमग भी छाई है,
पुलकित है जग सारा नूतन उमंग से,

सजे घर द्वार सभी ,दीवाली आई है.

ज्योति मुखरित हो,हर घर के आँगन में,
कोई भी कोना ,ना रजनी का डेरा हो,
खिल जाएँ व्यथित मन,आशा का बसेरा हो,
करें विजय तिमिर पर ,अपने मन के बल से,
दीपों की दीप्ती यह संदेसा लाई है,

करें मिल कर स्वागत,दीवाली आई है.
.................................................................................
..अल्पना वर्मा.. [१५ -१०-२००९]




आप के अनुरोध पर यह गीत पोस्ट के साथ १६ तारीख को जोड़ा गया है..


अकेले हैं चले आओ [फ़िल्म-राज़ ][लता जी का version]]




कमेन्ट फॉर्म पर सीधा जाने के लिए यहाँ क्लिक करें.

65 comments:

  1. सुंदर रचना .. अच्‍छा संदेश .. पूरे परिवार सहित आपको दीपावली की शुभकामनाएं !!

    ReplyDelete
  2. bahut sundar rachna......

    aapko deepawali ki haardik shubhkaamnayen.........

    ReplyDelete
  3. चलिए सब मिलकर करते है स्वागत दिवाली का.. शुभकामनाये

    ReplyDelete
  4. दीपावली की शुभकामनाओं से सजी सुंदर कविता रची है आपने।
    आपको भी अग्रिम शुभकामनाएं।
    ----------
    डिस्कस लगाएं, सुरक्षित कमेंट पाएँ

    ReplyDelete
  5. वाह अल्पना जी क्या लिखा है...
    आपको दीपावली की शुभकामनायें...
    बहुत सुंदर रचना लिखी है....
    मीत

    ReplyDelete
  6. दिवाली की बहुत बहुत शुभकामनायें अल्पना जी अच्छी लगी आपकी यह रचना ..

    ReplyDelete
  7. कविता इतनी अच्छी है की लग रहा आज ही दिवाली है !
    अल्पना जी ,आप सहित पूरे परिवार को ज्योतिपर्व पर मेरी बहुत बहुत शुभकामनाएं !
    यह दीवाली आप को सुख ,समृद्धि से सराबोर करे !

    ReplyDelete
  8. bahut hi badhiyaa, apne swar se kyun vanchit rakha?
    कामनाओं की वर्तिका जलानी है .....
    कुछ दीये खरीदने हैं,
    कामनाओं की वर्तिका जलानी है .....
    स्नेहिल पदचिन्ह बनाने हैं
    लक्ष्मी और गणेश का आह्वान करना है
    उलूक ध्वनि से कण-कण को मुखरित करना है
    दुआओं की आतिशबाजी ,
    मीठे वचन की मिठास से
    अतिथियों का स्वागत करना है
    और कहना है
    जीवन में उजाले - ही-उजाले हों

    ReplyDelete
  9. बहुत सुंदर कविता, दिपावली के दीपो की तरह से सजी.धन्यवाद
    आप को ओर आप के परिवार को दिपावली की शुभकामानायें.

    ReplyDelete
  10. दिपावली पर्व पर अति सुंदर साहित्यिक रचना. दीपावली की हार्दिक शुभकामनाएं।

    रामराम.

    ReplyDelete
  11. वाह.....।।
    जहाँ न पहुँचे रवि,
    वहाँ पहुँचे कवि!
    आप एक सशक्त कवियित्री हैं।
    बहुत अच्छी रचना प्रस्तुत की है, आपने!

    धनतेरस, दीपावली और भइया-दूज पर आपको ढेरों शुभकामनाएँ!

    ReplyDelete
  12. आपको दीपावली की बहुत बहुत शुभकामनाएं ..

    regards

    ReplyDelete
  13. दीपावली की बहुत-बहुत शुभकामनायें.

    ReplyDelete
  14. बहुत खूबसूरत पोस्ट, खूबसूरत त्यौहार के लिए। सच हर दिन रोशनी हर घर आँगन में ऐसे ही जगमगाती रहे। आप और आपके परिवार सहित सभी को दिवाली की ढेरों शुभकामनाएं।

    ReplyDelete
  15. खूबसूरत रचना
    आपको और आपके परिवार को दीपावली की हार्दिक शुभकामनाएं

    ReplyDelete
  16. उत्कृष्ट रचना.....दीपावली की ढेरो शुभकामनाये!

    ReplyDelete
  17. This comment has been removed by the author.

    ReplyDelete
  18. वाह जी वाह बेहतरीन रचना के लिए बधाई


    दीपावली पर्व की आपको एवं समस्‍त परिवार को हार्दिक शुभकामनाएं वैभव लक्ष्‍मी आप सभी पर कृपा बरसाएं। लक्ष्‍मी माता अपना आर्शिवाद बरसाएं

    ReplyDelete
  19. @माननीया रश्मि जी ,नया गीत साइड बार में लगाया है.
    आभार.

    ReplyDelete
  20. दीपावली पर्व की हार्दिक शुभकामना...

    ReplyDelete
  21. सुन्दर रचना. दीपावली की शुभकामनायें. यहाँ दीपावली के साथ डेंगू भी आया है.!

    ReplyDelete
  22. दीये जैसी जगमगाती कविता मैम...

    आपको भी दीपोत्सव की खूब-खूब सारी शुभकामनायें

    ReplyDelete
  23. blog jagat ko prakashit karti kavita, alpana ji, bahut sunder aur samayik, dheron badhai,deepawali aur dhanteras ki hardik shubhkaamnayen ishwar apke hriday ko adhyatm ke deepak ke prakash se prakashit karen.

    ReplyDelete
  24. बहुत बढ़िया सामयिक पोस्ट. दीपावली पर आपको ढेरों शुभकामनाएँ....

    ReplyDelete
  25. अति सुन्दर कविता.....
    आपको भी सपरिवार दीपोत्सव की हार्दिक शुभकामनाऎँ!!!!!!

    ReplyDelete
  26. आपको दीपावली की शुभकामनाएं !!

    ReplyDelete
  27. अल्पना जी आपको तथा आपके पुरे परिवार को दिवाली की ढेरो शुभकामनाएं पहले तो , आपकी कविता पसंद आयी इसके लिए भी बढाए मगर मुझे निचे कुछ सुनने को नहीं मिला वो क्यूँ..?

    आपका
    अर्श

    ReplyDelete
  28. @Arsh...is baar bhi नया गीत साइड बार में लगाया है.
    [Post ke neeche nahin lagaya hai..:)]

    आभार.

    ReplyDelete
  29. पूरे परिवार सहित आपको दीपावली की शुभकामनाएं !!

    ReplyDelete
  30. बहुत सुन्दर रचना के लिए बधाई के साथ साथ दिवाली की बधाई

    ReplyDelete
  31. खिल जाएँ व्यथित मन,आशा का बसेरा हो...

    बहुत ही खूबसूरत सा खयाल...,क्योंकि दिवाली खुशियों को तो लाती ही है, मगर अगर मन व्यथित हो तो आशा की जगह निराशा का वास होगा, याने लक्ष्मीजी की जगह कुछ और.वैसे आनंद धन ही सबसे बडा धन है.

    आपने मेरे साथ जो गीत (दोगाना) गाया है, उसके लिये धन्यवाद. आपका स्वर और रवानी मूल गीत की तरह ही है. इसे मैने भी आज किशोरदा पर लिखे पोस्ट में लगाया है. दूसरा गीत अभी सुनता हूं.

    आपको और आपके परिवार को दिपावली की ढेर सारी शुभकामनायें.

    ReplyDelete
  32. आपको भी मंगलमय हो उजासपर्व
    ISH YOU ALL A VERY HAPPY DIWALI AND A PROSPEROUS NEW YEAR!


    FestivaL of lights...From Darkness to Light...!!!! !

    ReplyDelete
  33. दीवाली पर आपसे दीवाली का कोई गीत सुनने का मन था जिसे मै पूरी शाम सुनता रहता । दीवाली की शुभकामनायें -शरद

    ReplyDelete
  34. दीवाली हर रोज हो तभी मनेगी मौज
    पर कैसे हर रोज हो इसका उद्गम खोज
    आज का प्रश्न यही है
    बही कह रही सही है

    पर इस सबके बावजूद

    थोड़े दीये और मिठाई सबकी हो
    चाहे थोड़े मिलें पटाखे सबके हों
    गलबहियों के साथ मिलें दिल भी प्यारे
    अपने-अपने खील-बताशे सबके हों
    ---------शुभकामनाऒं सहित
    ---------मौदगिल परिवार

    ReplyDelete
  35. Alpana ji aapki rachnaaon ki geyta hamesha hi prabhavit karti hain...

    ...shayad ais isliye bhi ho ki aap gaati bhi accha hain !!


    Diwal ki aapko aur aapke pariwaarwalon ko hardik shubhkamnaiyen.

    ReplyDelete
  36. दीपपर्व की अशेष शुभकामनाएँ।
    आप ब्लॉग जगत में महादेवी सा यश पाएं।

    -------------------------
    आइए हम पर्यावरण और ब्लॉगिंग को भी सुरक्षित बनाएं।

    ReplyDelete
  37. बढ़ा दो अपनी लौ
    कि पकड़ लूँ उसे मैं अपनी लौ से,

    इससे पहले कि फकफका कर
    बुझ जाए ये रिश्ता
    आओ मिल के फ़िर से मना लें दिवाली !
    दीपावली की हार्दिक शुभकामना के साथ
    ओम आर्य

    ReplyDelete
  38. jagmagati rachana,sunder,diwali ki bahut badhai.

    ReplyDelete
  39. May the festival of Lights fill your life with all that you long for.

    Wish you and your family

    ★☆★☆★☆★
    "HAPPY DIPAWALI"
    ★☆★☆★☆★

    ReplyDelete
  40. बहुत सुन्दर गीत ! आपको भेई दीपावली की हार्दिक शुभकामनाये !

    ReplyDelete
  41. alpnaji
    dhnywad
    bahut sundar deepavali ki bhavnaye .
    aap aaram se khaniya pdhe .


    एक नन्हा दिया अपने आप को जलाकर अमावस कि रात को प्रकाशवान करता है |
    आपको और पूरे परिवार ki

    दीपावली मंगलमय हो |
    शुभकामनाये बधाई

    ReplyDelete
  42. दीपावली, गोवर्धन-पूजा और भइया-दूज पर आपको ढेरों शुभकामनाएँ!

    ReplyDelete
  43. दीपावली की शुभकामनाएं

    ReplyDelete
  44. सुन्दर साजसज्जा के साथ बेहतरीन रचना.

    सुख औ’ समृद्धि आपके अंगना झिलमिलाएँ,
    दीपक अमन के चारों दिशाओं में जगमगाएँ
    खुशियाँ आपके द्वार पर आकर खुशी मनाएँ..
    दीपावली पर्व की आपको ढेरों मंगलकामनाएँ!

    -समीर लाल ’समीर’

    ReplyDelete
  45. DEEP PARVA KI AAPKO BAHUT SAAREE SHUBHKAMNAYE.

    bahut sundar rachna ke saath divali ko roshan kiya he aapne/ vese bhi aapki rachnaye mujhe prabhavit karti he.
    दीपों की दीप्ती यह संदेसा लाई है../
    sab svasthrahe, sukhi rahe, sneh se rahe/ kamnaye he/

    ReplyDelete
  46. दीपावली की ढेरो शुभ कामना !

    लक्ष्मी और गणेश की सदा आप और आपके परिवार पर मेहरवान रहे /

    ReplyDelete
  47. अल्पना जी

    दीपावली में नए आशा का संचार करती .... सुनहरे रंगों से सजी सुन्दर रचना है .........
    गीत भी कमाल है ............ आपकी आवाज़ और चार चाँद लगा रही है गीत में ...........
    आपको और आपके पूरे परिवार को दीपावली की मंगल कामनाएं ...........

    ReplyDelete
  48. हमें तो बचपन की कविता याद आ गयी..आई दिवाली रे.....
    आपको भी बहुत बहुत बधाई और मुबारकबाद दीपावली की

    ReplyDelete
  49. आपको और आपके परिवार को दीपावली की मंगल कामनाएं.

    ReplyDelete
  50. Dipawali ki dheron shubkamnayen.

    ReplyDelete
  51. WiSh U VeRY HaPpY DiPaWaLi.......

    ReplyDelete
  52. "आओ मिल कर फूल खिलाएं, रंग सजाएं आँगन में

    दीवाली के पावन में , एक दीप जलाएं आंगन में "

    ......दीवाली की हार्दिक शुभकामनाएँ |

    ReplyDelete
  53. अच्छी रचनाएँ.

    अप्प दीपो भव!
    इस साल ओबामा ने दीपावली मनाई, आगे से हर देश प्रकाश पर्व मनाए.

    हार्दिक शुभकामनाएँ.

    ReplyDelete
  54. यह दिया है ज्ञान का, जलता रहेगा।
    युग सदा विज्ञान का, चलता रहेगा।।
    रोशनी से इस धरा को जगमगाएँ!
    दीप-उत्सव पर बहुत शुभ-कामनाएँ!!

    ReplyDelete
  55. मुबारक हो आपको भी। आपका गीत सुनते हुये चले आ रहे हैं बधाई देते हुये।

    ReplyDelete
  56. दीये झिलमिला रहे हैं
    मन को रिझा रहे हैं
    तम को दूर करना
    हमे सिखा रहे हैं !!

    दीपावली की मंगलकामनाएं लिए
    - सुलभ सतरंगी

    ReplyDelete
  57. sundar panktiyan...bhav sakaratmak hain.
    Ek kaam aur karein , rachnatmakta ke liye dvar khule rakhein..email dein ya follow karein at
    http://kumarzahid.blogspot.com,

    ReplyDelete
  58. sundar panktiyan...bhav sakaratmak hain.
    Ek kaam aur karein , rachnatmakta ke liye dvar khule rakhein..email dein ya follow karein at
    http://kumarzahid.blogspot.com,

    ReplyDelete
  59. दीपावली की हार्दिक शुभकामनायें

    ReplyDelete
  60. ज्योति मुखरित हो,हर घर के आँगन में,
    कोई भी कोना ,ना रजनी का डेरा हो,
    खिल जाएँ व्यथित मन,आशा का बसेरा हो,
    करें विजय तिमिर पर ,अपने मन के बल से,
    दीपों की दीप्ती यह संदेसा लाई है,

    वाह ...आपने तो हर कोने को रौशन कर दीया .....और गीत ने भी मोहित कर लिया .....!!

    ReplyDelete
  61. खिल जाएँ व्यथित मन,आशा का बसेरा हो,
    करें विजय तिमिर पर ,अपने मन के बल से,
    दीपों की दीप्ती यह संदेसा लाई है,

    उचित और सार्थक सन्देश.

    हार्दिक बधाई आपको भी सपरिवार.

    चन्द्र मोहन गुप्त
    जयपुर
    www.cmgupta.blogspot.com

    ReplyDelete
  62. आपकी शुभकामना के लिए बहुत -बहुत धन्यवाद ,आशा है आपकी दिवाली भी मंगलमय रही होगी .मैं जल्द ही नियमित हो रहा हूँ .

    ReplyDelete
  63. दीपावली की शुभ कामनाये.

    ReplyDelete
  64. बहुत सुंदर गीत। दीप पर्व की हार्दिक शुभकामनाएं।
    ( Treasurer-S. T. )

    ReplyDelete

आप के विचारों का स्वागत है.
~~अल्पना