Search This Blog

August 16, 2018

स्मृति शेष :प्रिय राजनेता और कवि अटल जी को अश्रुपूरित श्रद्धांजलि

एक बेहद प्रभावशाली व्यक्तित्व के राजनेता और मेरे प्रिय कवि अटल जी का निधन अपूर्णीय क्षति है। कुछ कहने की स्थिति में नहीं हूँ,सिर्फ मौन शेष है ।

   श्रद्धांजलि :
 
=============

5 comments:

nilesh mathur said...

श्रद्धांजलि

रूपचन्द्र शास्त्री मयंक said...

आपकी इस प्रविष्टि् के लिंक की चर्चा कल शनिवार (18-08-2018) को "उजड़ गया है नीड़" श्रद्धांजलि अटलबिहारी वाजपेई (चर्चा अंक-3067) (चर्चा अंक-2968) पर भी होगी।
--
सूचना देने का उद्देश्य है कि यदि किसी रचनाकार की प्रविष्टि का लिंक किसी स्थान पर लगाया जाये तो उसकी सूचना देना व्यवस्थापक का नैतिक कर्तव्य होता है।
--
चर्चा मंच पर पूरी पोस्ट अक्सर नहीं दी जाती है बल्कि आपकी पोस्ट का लिंक या लिंक के साथ पोस्ट का महत्वपूर्ण अंश दिया जाता है।
जिससे कि पाठक उत्सुकता के साथ आपके ब्लॉग पर आपकी पूरी पोस्ट पढ़ने के लिए जाये।
भारतरत्न अटल बिहारी वाजपेई जी को नमन और श्रद्धांजलि।
सादर...!
डॉ.रूपचन्द्र शास्त्री 'मयंक'

HARSHVARDHAN said...

आपकी इस पोस्ट को आज की बुलेटिन विनम्र श्रद्धांजलि - श्री अटल बिहारी वाजपेयी जी - ब्लॉग बुलेटिन परिवार में शामिल किया गया है। कृपया एक बार आकर हमारा मान ज़रूर बढ़ाएं,,, सादर .... आभार।।

Alpana Verma said...

बहुत अच्छी प्रस्तुति .
एक महान महान व्यक्तित्त्व को सादर नमन!उनके प्रति सभी के विचारों के लिंक मिले,मेरे श्रद्धा सुमन भी इसमें शामिल किये गए हैं ,हृदय से आभार I

Kavita Rawat said...

श्रद्धा सुमन!