स्वदेश वापसी /दुबई से दिल्ली-'वन्दे भारत मिशन' Repatriation Flight from UAE to India

'वन्दे भारत मिशन' के तहत  स्वदेश  वापसी   Covid 19 के कारण असामान्य परिस्थितियाँ/दुबई से दिल्ली-Evacuation Flight Air India मई ,...

December 31, 2008

'गीत गाता आ रहा हूँ '

[दुबई फेस्टिवल सिटी [दिसम्बर १० ,२००८]]

वर्ष २००८ अब विदा लेने को है,नव-वर्ष के आगमन में कुछ ही घंटे शेष हैं.
नयी सोच,नए विचार,नयी योजनायें,नए वादे,नए संकल्प लिए नए वर्ष का स्वागत करें.
बीतते हुए इस वर्ष में रह गए अधूरे कार्य नए वर्ष में पूरे हों,
हर ओर खुशियाँ हों,देश खूब प्रगति करे.
विश्व में शान्ति बहाल हो.
आप और आपके समस्त परिवार को नव वर्ष की हार्दिक शुभकामनाएं.
आता हुआ नया वर्ष 2009 कुछ कह रहा है---
आईये सुनते है...
'गीत गाता आ रहा हूँ '

------------------
गीत गाता आ रहा हूँ,
तुम नए विश्वास भरना,
गर्व से मैं सर उठाऊं ,

तुम नया इतिहास रचना

देश की गरिमा को खातिर ,
कर गए क़ुर्बान जीवन,

भूल न जाना तुम उनको,
कर नमन तुम आगे बढ़ना


देखना तुम फिर कहीं भी,

कोई भी भूखा न साये,

हर दिशा में हो उजाला,
ज्ञान दीपक बन के जलना


पाट दो अन्तर हृदय के ,
संदेस सब में बाँट दो,

विश्व में चैनो-अमन हो,
प्रार्थना ईश्वर से करना

एक क़दम जो तुम उठाओ,
और भी संग आयेंगे,

हौसला टूटे न कोई ,
तुम यही संकल्प धरना

'गीत गाता आ रहा हूँ......

-[अल्पना वर्मा ,३१ दिसम्बर २००८]

64 comments:

  1. आपको एवं आपके समस्त मित्र/अमित्र इत्यादी सबको नववर्ष की हार्दिक शुभकामनाऎं.
    ईश्वर से कामना करता हूं कि इस नूतन वर्ष में आप सबके जीवन में खुशियों का संचार हो ओर सब लोग एक सुदृड राष्ट्र एवं समाज के निर्माण मे अपनी महती भूमिका का भली भांती निर्वहण कर सकें.

    ReplyDelete
  2. आपको नव-वर्ष की मंगल कामनाएं के साथ हार्दिक शुभकामना

    ReplyDelete
  3. सच।
    देखना तुम फिर कहीं भी,
    कोई भी भूखा न साये,
    हर दिशा में हो उजाला,
    ज्ञान दीपक बन के जलना।
    बहुत खूब।
    आपकी रचना पढकर हम भी कुछ बोल पडे।
    नया साल आऐगा

    खुशियों की सौगात लाऐगा।

    आपको और आपके परिवार को भी नववर्ष की ढेरों शुभकामनाएं।

    ReplyDelete
  4. Anonymous12/31/2008

    पाट दो अन्तर हृदय के ,


    संदेस सब में बाँट दो,


    विश्व में चैनो-अमन हो,


    प्रार्थना ईश्वर से करना
    bahut sahi,naya saal aapko bhi bahut mubarak.

    ReplyDelete
  5. नववर्ष की शुभकामनाएं।

    ReplyDelete
  6. देखना तुम फिर कहीं भी,
    कोई भी भूखा न साये,
    हर दिशा में हो उजाला
    ज्ञान दीपक बन के जलना

    नववर्ष की आपको , परिवार व इष्ट्मित्रों सहित हार्दिक शुभकामनाएं
    regards

    ReplyDelete
  7. सुंदर प्रेरणादायक रचना. चटक रंग की कुछ पंक्तियाँ आँखों को कष्ट पहुँचा रही है. संभव हो तो पोस्ट को एडिट कर लें. नव वर्ष आपकी झोली में खुशियों की सौगात बरसाए. आभार सहित.

    ReplyDelete
  8. नव वर्ष की हार्दिक शुभकामना .....

    ReplyDelete
  9. गर्व से मैं सर उठाऊं ,
    तुम नया इतिहास रचना

    सुंदर रचना नव वर्ष के आगमन में
    आप को और आपके परिवार को नव वर्ष की बहुत बहुत शुभकामनाएं

    ReplyDelete
  10. बहुत सुन्‍दर गीत।

    आपको भी नववर्ष की हार्दिक बधाई।

    ReplyDelete
  11. नववर्ष की शुभकामनाएँ

    ReplyDelete
  12. पाट दो अन्तर हृदय के ,

    संदेस सब में बाँट दो,

    विश्व में चैनो-अमन हो,

    प्रार्थना ईश्वर से करना

    बहुत सुन्दर कविता और सुन्दरतम भाव!

    आपको और आपके परिवार को नये साल की घणी रामराम!

    ReplyDelete
  13. नव वर्ष के आगमन पर मेरी ओर से शुभकामनाएं स्वीकार कर अनुग्रहीत करें

    ReplyDelete
  14. नव वर्ष की आप और आपके परिवार को हार्दिक शुभकामनाएं !!!नया साल आप सब के जीवन मै खुब खुशियां ले कर आये,ओर पुरे विश्चव मै शातिं ले कर आये.
    धन्यवाद

    ReplyDelete
  15. बहुत सुन्दर पोस्ट। और नव वर्ष मंगलमय हो!

    ReplyDelete
  16. Anonymous12/31/2008

    पाट दो अन्तर हृदय के ,संदेस सब में बाँट दो,
    विश्व में चैनो-अमन हो,प्रार्थना ईश्वर से करना |

    bahut khub likha hai....

    ReplyDelete
  17. This comment has been removed by the author.

    ReplyDelete
  18. शुभकामनाओं हेतु आप सभी को बहुत बहुत धन्यवाद..
    अब मिलते हैं ०२ तारीख के बाद..नए साल में...
    तब तक आप सभी खूब आनंद से नए साल का स्वागत करें...
    एक बार फिर से....नव वर्ष की ढेर sari मंगलकामनाएं.
    [सुब्रमनियम sir जी आप के सुझाव पर कविता के फोंट्स में मैं ने रंग ठीक कर दिए हैं.]

    ReplyDelete
  19. नव वर्ष आप और आपके परिवार के लिये मंगलमय हो

    ReplyDelete
  20. अंग्रेजी नये वर्ष की शुभकामनायें ।

    ReplyDelete
  21. बहुत ही सुंदर ,और विचार पुर्ण, भाव पूर्ण,सुन्दर रचना ,बधाई,नव वर्ष कीशुभकामनाये

    ReplyDelete
  22. अल्पना जी सबसे पहले तो आप और आपके समस्त परिवार को नव वर्ष की हार्दिक शुभकामनाएं.
    बहोत ही खुबसूरत कविता के साथ इस साल को बिदा कर रही है आप और साथ में नव वर्ष की स्वागत भी कर रही हैं.....

    ढेरो बधाई आपको...
    कुछ सुनने को मिल जाता तो !!!!!!!!!!!!!!
    अर्श

    ReplyDelete
  23. नव-वर्ष की हार्दिक शुभकामनायें अल्पना जी...और जबरदस्त बधाई इस खुबसूरत रचना पर
    ईश्‍वर करे आने वाला नया साल आपकी लेखनी से शब्दों के नये कमाल दिखलवाये और आपकी आवाज का जादू और निखरे

    ReplyDelete
  24. हिन्दी ब्लोग जगत से जुडे सभी को ढेरोँ शुभकामना आगामी वर्ष सुख शाँति दे
    और आपकी गीतिका शानदार उसकी बधाई
    अल्पना जी
    स स्नेह,
    - लावण्या

    ReplyDelete
  25. आपको नव वर्ष की हार्दिक मंगलकामानाएं।

    ReplyDelete
  26. अल्पना जी
    हे प्रभु यह तेरापथ के परिवार कि ओर से नये वर्ष की हार्दिक शुभकामनाये। नया साल बहुत ही खुशियो दे, यह ही मेरी मगल कामना आपके सपरिवार के लिये।

    नमस्कार॥

    http://ombhiksu-ctup.blogspot.com/

    ReplyDelete
  27. नव वर्ष मंगल मय हो
    आपका सहित्य सृजन खूब पल्लिवित हो
    प्रदीप मानोरिया
    09425132060

    ReplyDelete
  28. नव वर्ष की हार्दिक शुभकामनाये .यह साल आपके और आपके परिवार के लिए मंगलमय हो

    ReplyDelete
  29. आपको और आपके सहपरिवार को नव वर्ष की हार्दिक शुभकामनाये!!!
    न्य साल आप सभी के जीवन में खूब खुशी,सुख,समृधि और उलास लेकर आए!
    और साथ ही पुरे विश्व में सुख,शान्ति ,अमन चैन लेकर आए.
    धन्यवाद!

    ReplyDelete
  30. नववर्ष की हार्दिक शुभकामनाएं

    ReplyDelete
  31. नव वर्ष की हार्दिक शुभकामनाएं

    ReplyDelete
  32. नये साल की सुभकामनायें :)

    ReplyDelete
  33. शब्दों के माध्यम से भाव और िवचार का श्रेष्ठ समन्वय िकया है आपने । अच्छा िलखा है आपने ।

    आपको नववषॆ की बधाई । नया आपकी लेखनी में एेसी ऊजाॆ का संचार करे िजसके प्रकाश से संपूणॆ संसार आलोिकत हो जाए ।

    http://www.ashokvichar.blogspot.com

    ReplyDelete
  34. नव वर्ष की आप और आपके परिवार को हार्दिक शुभकामनाएं !!!

    ReplyDelete
  35. नर्व की हार्दिक शुभकामनाऍं।

    ReplyDelete
  36. Alpna ji
    shayad isi positive attitude ki hame jarurat hai..isi feel ki....aap me jo jajba hai vo barkarrar rahe aor aapki dua kabool ho.....
    ameen.
    naye varsh ki shubhkaamnaye....sabhi parivar valo ko bhi

    ReplyDelete
  37. इतना प्यारा गीत तो आज तक नही गुनगुनाया मैंने...
    प्रोत्साहन,प्रेरणा देता ये गीत हमेशा अमर रहे लोगो की देश की हम सब की जबान पर रहे ....
    यही आशा यही कामना यही वंदना है मेरी......
    आपको नमन.....

    अक्षय-मन

    ReplyDelete
  38. आपको भी बधाई नए साल की .........

    ReplyDelete
  39. Alpna ji Nav varas ki dheron subh kamnayen tatha blog jagat me charchit hone hetu bhot bhot bhai...aapka blog aur phule fale....

    ReplyDelete
  40. नये साल की सुभकामनायें

    ReplyDelete
  41. Happy new year to u as well.....

    ReplyDelete
  42. नए साल के नए गीतों के साथ... देशभक्ति का अच्छा संगम है अल्पना जी ...

    ReplyDelete
  43. पाट दो अन्तर हृदय के ,
    संदेस सब में बाँट दो,
    विश्व में चैनो-अमन हो,
    प्रार्थना ईश्वर से करना

    एक क़दम जो तुम उठाओ,
    और भी संग आयेंगे,
    हौसला टूटे न कोई ,
    तुम यही संकल्प धरना

    संकल्प को नमन !! बहुत ही सुंदर रचना है !!!!!!!

    ReplyDelete
  44. अनंत शुभकामनाएं............

    ReplyDelete
  45. एक क़दम जो तुम उठाओ,
    और भी संग आयेंगे,

    हौसला टूटे न कोई ,
    तुम यही संकल्प धरना


    alpana ji bahut sundar.
    nav varsh ki shubhkamanayen.

    ReplyDelete
  46. बहुत सुन्दर- नव-वर्ष की मंगल कामनाएं!!!

    ReplyDelete
  47. sukhi rahen nirogi rahen na kisi vipda se samna ho. navvarsh par apko evam parijano ko dushyant ki shubhkamna ho....atyant sundar rachna....
    dushyant
    chandmutthiashaar.blogspot.com

    ReplyDelete
  48. पाट दो अन्तर हृदय के ,
    संदेस सब में बाँट दो,
    विश्व में चैनो-अमन हो,
    प्रार्थना ईश्वर से करना

    बहुत सुंदर पंकितियाँ है

    ReplyDelete
  49. पाट दो अन्तर हृदय के ,
    संदेश सब में बाँट दो,!!!!!!!!!

    आपके इस संकल्प को मेरा नमन !!!!!!!

    नव वर्ष की आप और आपके परिवार को हार्दिक शुभकामनाएं !!!नया साल आप सब के जीवन मै खुब खुशियां ले कर आये!!!

    ReplyDelete
  50. Anonymous1/06/2009

    विश्व में चैनो-अमन हो,
    प्रार्थना ईश्वर से करना

    bahut hi sundar bhav

    ---------------------------"VISHAL"

    ReplyDelete
  51. Sundar Geet
    so many comments... u must be a very popular personality...
    congrats..
    kavi kulwant
    http://kavikulwant.blogspot.com

    ReplyDelete
  52. नव वर्ष की बधाई ..बहुत सुंदर स्वागत किया आपने

    ReplyDelete
  53. देखना तुम फिर कहीं भी,
    कोई भी भूखा न साये,

    हर दिशा में हो उजाला,
    ज्ञान दीपक बन के जलना
    sundar rachna

    ReplyDelete
  54. aapka ye geet bahut sundar hai...sach hi pichhe ka chhod kar aage badhna hi zindagi hai. nav varsh ki shubhkaamnayen.

    ReplyDelete
  55. इस लेट लतीफी के लिए क्षमा चाहता हूँ...सबसे पहले...नव वर्ष की शुभकामनाएं...आपने बहुत ही अच्छा गीत पढने को दिया अपने पाठकों को नए साल पर...देर से ही चलिए पढ़ा तो सही...वरना इस सुंदर गीत से वंचित रह जाता..आप का धन्यवाद.
    नीरज

    ReplyDelete
  56. बहुत-बहुत बधाई

    इस अनुपम रचना के लिए.

    देश की गरिमा को खातिर ,
    कर गए क़ुर्बान जीवन,
    भूल न जाना तुम उनको,
    कर नमन तुम आगे बढ़ना


    देखना तुम फिर कहीं भी,
    कोई भी भूखा न साये,
    हर दिशा में हो उजाला,
    ज्ञान दीपक बन के जलना.


    अनुपम अभिव्यक्ति.

    ReplyDelete
  57. 'एक क़दम जो तुम उठाओ,
    और भी संग आयेंगे,

    हौसला टूटे न कोई ,
    तुम यही संकल्प धरना' - इसी धारणा से व्यक्ति और देश आगे बढ़ सकता है.

    ReplyDelete
  58. अरे हाँ एक ग़ज़ल अक्सर सुनी है ना.........
    अब कहीं न कभी शोर-शराबा होगा
    जुर्म होगा ना कहीं खून-खराबा होगा
    नए वादों का जो डाला है वो जाल अच्छा है...
    रहनुमाओं ने कहा है कि ये साल अच्छा है.....
    दिल के खुश रखने को ग़ालिब ये सवाल अच्छा है....!!

    ReplyDelete
  59. नववर्ष पर बहुत ही सुन्दर गीत था यह आपका अल्पना जी. मैं देर से आया पर पुन: हर्षाया.

    ReplyDelete
  60. alpna ji,
    bahut sundar abhiwyakti hai

    ReplyDelete
  61. aapki awaz main ek geet suna. AApki aawaz bahut madhur hai ishwar se prathna hai , awaz aur vicharo ki yeh madhurta sada bani rahe....

    ReplyDelete
  62. der se hi sahi ek achchi rachna padhne ka mauka mila, der apki taraf se nahin meri taraf se.
    एक क़दम जो तुम उठाओ,
    और भी संग आयेंगे,

    हौसला टूटे न कोई ,
    तुम यही संकल्प धरना



    'गीत गाता आ रहा हूँ......

    bahut sunder rachna.

    ReplyDelete

आप के विचारों का स्वागत है.
~~अल्पना